SEO क्या है। SEO कैसे करे। SEO से ट्रैफिक कैसे बढ़ाये।अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक लाने का सबसे आसान तरीका।

SEO क्या है। SEO कैसे करे। SEO से ट्रैफिक कैसे बढ़ाये।अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक लाने का सबसे आसान तरीका।

अगर आपका कोई ब्लॉग है या फिर यूट्यूब चैनल है तो आपका सबसे difficult task रहता होगा कि अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ाये। या अपने यूट्यूब चैनल पर view कैसे लाये। वैसे तो ट्रैफिक बढ़ाने के बहुत सारे तरीके है।

जैसे की सोशल मीडिया पर अपने ब्लॉग का लिंक शेयर करके। पर ये तरीका इतना ज्यादा इफेक्टिव नहीं है। क्योकि हम चाहे सोशल मीडिया पर कितना भी शेयर कर ले 200 -400 विजिटर से ज्यादा नहीं आते। और वो भी कुछ समय बाद कम हो जाते है।

और एक तरीका है जैसे फेसबुक पर ads चलाकर या फिर यूट्यूब पर ads चलाकर हम ट्रैफिक ला सकते है। पर समस्या ये रहती है कि जब हम ब्लॉग की शुरुआत करते है तब हमारा बजट इतना नहीं होता की हम ads लगवा सके या फिर कोई पेड टूल का इस्तेमाल कर सके।

और एक तरीका है SEO ( SEARCH ENGINE OPTIMIZATION ) ये तरीका सभी तरीको में सबसे शानदार तरीका है। अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक लाने का। असली ट्रैफिक जो आता है वो आता है seo से। जिसे हम organic traffic कहते है। जिसके बारे में हम आज डिटेल्स में बात करने वाले है।

कि seo क्या होता है। seo कितने प्रकार का होता है। और seo करने के लिए हमें किन किन टूल्स की जरुरत पड़ेगी। और seo से हम अपने ब्लॉग पर ट्रैफिक कैसे बढ़ा सकते है और भी बहुत कुछ आज हम seo के बारे में जानने वाले है। तो चलिए जानते है।

also read :- ब्लॉग क्या है। ब्लॉग से पैसे कैसे कमाए। अपना खुद का ब्लॉग कैसे शुरू करे

SEO क्या है।

seo का पूरा नाम search engine optimization है। हम जब भी कोई ब्लॉग बनाते है और अपना पोस्ट पब्लिश करते है पब्लिश करने के बाद अगर हम अपनी पोस्ट को गूगल में सर्च करके देखते है तो वो हमे नहीं मिलता। हमे अपने पोस्ट को गूगल में या किसी भी सर्च इंजन में लाने के लिए उस पोस्ट को optimize करना पड़ता है जिसे हम seo (search engine optimization) कहते है।

यहाँ पर optimize करने का मतलब है। हमारी पोस्ट देखने में अच्छी होनी चाहिए। पढ़ने में आसान होनी चाहिए। और हमारी पोस्ट का content एक दम यूनिक होना चाहिए यानि कही से कॉपी पेस्ट न किया हो। और पोस्ट में keyword का अच्छे से इस्तेमाल किया हो। और ये सब करने में मदद करता है seo (search engine optimization)

also read :- वेब होस्टिंग क्या है। वेब होस्टिंग कैसे ख़रीदे। वेब होस्टिंग की पूरी जानकारी

SEO के प्रकार

जब भी हम गूगल सर्च में कुछ भी सर्च करते है तो उन्हें keyword कहा जाता है सर्च करने के बाद गूगल का algorithm सभी साइट को crawl करता है तो आपकी साइट को भी crawl करेगा अगर अपने सर्च किये गए keyword का इस्तेमाल किया है तो आपकी पोस्ट भी गूगल सर्च रिजल्ट में आएगी।

search engine optimization

गूगल का algorithm आपकी पोस्ट को भी crawl करे उसके लिए आपको seo करना होगा और पोस्ट को लिखने के बाद उसके url को गूगल पर index करना होगा। तभी आपकी पोस्ट गूगल फर्स्ट पेज पर रैंक करेगी। seo (search engine optimization) तीन प्रकार का होता है पहला on page seo होता है। दूसरा off page seo है और तीसरा technical seo होता है।

On page seo

जब हम अपने ब्लॉग पर पोस्ट लिखते है और अपनी पोस्ट को अच्छा दिखाने के लिए या बेहतर बनाने के लिए उसे अच्छी तरह से डिज़ाइन करते है और पोस्ट को अच्छे तरीके से लिखने की कोशिश करते है। उसमे तरह तरह के लिंक को ऐड करते है अपनी पोस्ट में इमेज का इस्तेमाल करते है।

ताकि हमारी पोस्ट का कंटेंट विजिटर को पसंद आये और हम उसके सारे सवालो के जवाब दे पाए तभी विजिटर पोस्ट को शेयर करेगा और बार बार साइट को विजिट करेगा उससे गूगल साइट को ज्यादा क्रॉल करेगा और पोस्ट के रैंक करने के चांस बढ़ेंगे। उसी को हम on page seo कहते है।

किसी भी पोस्ट को गूगल के फर्स्ट पेज पर रैंक कराने के लिए या अपनी साइट पर ट्रैफिक लाने के लिए सबसे जरुरी होता है कीवर्ड। ये सबसे जरुरी है की आप किस कीवर्ड पर आर्टिकल लिख रहे है। और उस कीवर्ड का सर्च वॉल्यूम कितना है। उस कीवर्ड का कम्पटीशन क्या है। अब आप सोच रहे होंगे कि ये कीवर्ड क्या है।

keyword

जैसे ही आपको नाम से ही पता चल रहा है key और word मतलब की कुछ ऐसे words जो आपके पोस्ट को लोगो तक पहुंचाने के लिए चाबी का काम करते है। उन्हें keyword कहते है। जो वर्ड्स हम गूगल में सर्च करते है जैसे हमने सर्च किया seo क्या है तो seo एक keyword है

जब भी गूगल का क्रॉलर साइट को क्रॉल करेगा उसे जो भी seo से रेलेटेड कीवर्ड मिलेंगे वो उसे सर्च रिजल्ट में दिखा देगा। हम जो भी गूगल में सर्च करते है वो ही कीवर्ड होते है। हमें आर्टिकल लिखने से पहले कीवर्ड को अच्छे से रिसर्च करना है की हम किस कीवर्ड पर अपना आर्टिकल लिख रहे है।

इसलिए keyword का सही से इस्तेमाल करना भी जरुरी है कीवर्ड रिसर्च करने के लिए आप free or paid tools दोनों का इस्तेमाल कर सकते है

Free tools :-

  • word tracker
  • soolve
  • keyword sheeter
  • keyword generator
  • Google Adwords
  • keyword surfer

Paid tools :-

  • ahrefs
  • ubersuggest
  • google keyword planner
  • keywordtool.io
  • SEMrush

अब keyword research करने बाद आपको पता चल गया कि किस कीवर्ड पर आपको आर्टिकल लिखना है आर्टिकल लिखते समय आपको कुछ बातो का ध्यान रखना होगा। जैसे कि अच्छे से heading or sub heading का इस्तेमाल करे, आर्टिकल में इमेज का इस्तेमाल करे, पुरे आर्टिकल को step by step explain करे।

ये सब चीजे करने के लिए आप free plugin का भी इस्तेमाल कर सकते है on page seo करने के लिए आप दो सबसे बेस्ट plugin का फ्री और प्रीमियम वर्शन इस्तेमाल कर सकते है। एक rank math और दूसरा yoast seo plugin है। इन्हे आप अपनी साइट पर जाकर add plugin पर क्लिक करके इनस्टॉल कर सकते है। ये प्लगइन आर्टिकल लिखने में और on page seo करने में आपकी मदद करेंगे।

also read :-अपना खुद का बिज़नेस कैसे शुरू करे। 2021 most useful business startup ideas

Off page seo

जब हम पोस्ट को लिखते समय optimize करते है तो उसे on page seo कहते है और जब पोस्ट को लिख लेने के बाद optimize करते है तो उसे off page seo कहते है।

search engine optimization

off page seo में हमने लिंकबॉडिंग करनी होती है यानी backlink बनानी होती है। अब ये backlink क्या होती है।

Backlink:-

जब हम अपनी पोस्ट का लिंक किसी दूसरे की पोस्ट में डाल देते है और जो भी उसकी पोस्ट पर visitor आते है वो उस लिंक पर क्लिक करते है तो वो उस लिंक के जरिये हमारी साइट पर आ जाते है उसे हम backlink कहते है। ये दो प्रकार की होती है एक dofollow backlink और दूसरी nofollow backlink होती है। इसके अलावा भी दो प्रकार के लिंक होते है।

Internal link :-

जब भी visitor हमारी साइट पर आते है और वो पोस्ट को पढ़ते है तो उस पोस्ट में हम अपनी किसी दूसरी पोस्ट का भी लिंक डाल देते है ताकि वो हमारी दूसरी पोस्ट को भी पढ़े। जैसे की youtuber करते है अपनी वीडियोस के लास्ट में बोलते है ये चीज जानने के लिए आप हमारी दूसरी वीडियो देख सकते है। उसे हम internal link कहते है।

External link :-

जब भी visitor हमारी साइट पर आते है और पोस्ट को पढ़ते है तो हमारी पोस्ट में जो भी दूसरी वेबसाइट के लिंक होते है उन्हें हम external link कहते है। जब भी विजिटर उस लिंक पर क्लिक करते है। तो वो हमारी साइट से हटकर दूसरी साइट पर चले जाते है। इन लिंक्स को उस वेबसाइट की backlink भी बोल सकते है।

और तीसरा होता है technical seo जिसमे अपनी साइट के पेज की स्पीड को improve करना होता है और जितनी भी technical प्रॉब्लम्स होती है उन्हें सॉल्व करना होता है।

इसके अलावा अपने whitehat seo और blackhat seo के बारे में भी सुना होगा। whitehat seo होता है कि हम अपनी पोस्ट को गूगल पर डाल देते है गूगल उसे रैंक करे या न करे। और blackhat seo होता है कि हम अपनी पोस्ट को जबरदस्ती गूगल से रैंक करवाए उसके algorithm को फाॅर्स करे।

अपनी पोस्ट को लिखने के बाद और उसका seo करने के बाद हमें उस पोस्ट के यूआरएल को गूगल में इंडेक्स करना होता है ताकि गूगल हमारी पोस्ट को भी crawl करे।

अपनी पोस्ट के url को गूगल में index कैसे करे

जब भी हम पोस्ट को पब्लिश करते है तो हमें उसके बाद पोस्ट के url को गूगल पर इंडेक्स करना होता है url को index करने के लिए हमें गूगल में टाइप करना होगा google search consolegoogle search console में हमें login करना होगा उसके लिए हमें एक gmail id की जरुरत पड़ेगी।

उसके बाद अगर हमारा डोमेन नाम google search console में ऐड है तो हम डायरेक्ट url इंस्पेक्शन में जाकर अपने url को टाइप करके इंडेक्स की रिक्वेस्ट डाल सकते है।

Google search console

उसके बाद हम लाइव टेस्ट करके देखेंगे। अगर उसमे लिखा आता है url is available to google तो आपका url गूगल पर index हो गया है और अगर आपका domain name google search console में नहीं ऐड है तो आप ऐड प्रॉपर्टी पर जाकर अपना domain name ऐड कर सकते है।

उसके बाद गूगल आपकी पोस्ट को crawl करेगा। अगर अपने अपनी पोस्ट को सही तरीके से लिखा है तो आपकी पोस्ट गूगल के फर्स्ट पेज पर रैंक करेगी और ट्रैफिक भी भर भर के आएगा। जिससे आप बहुत सारा पैसा सिर्फ एक ब्लॉग से ही कमा सकते है।

also read :-यूट्यूब मार्केटिंग से पैसे कैसे कमाए। 2021 में यूट्यूब मार्केटिंग कैसे करे

conclusion

हमें अपनी पोस्ट को गूगल में रैंक करवाने के लिए और अपनी साइट पर ट्रैफिक बढ़ाने के लिए सबसे पहले ये जानना होगा की हम किस कीवर्ड पर अपने आर्टिकल को लिख रहे है फिर उसके बाद हमें on page seo करना होगा। उसके बाद off page seo करना होगा उसके बाद हमें अपनी पोस्ट के url को google search console पर index करना होगा। अब हमारी पोस्ट गूगल पर रैंक करने के लिए तैयार है उसके बाद आप थोड़ी और ट्रैफिक बढ़ाने के लिए पोस्ट के लिंक को सोशल मीडिया पर भी शेयर कर सकते है। दोस्तों उम्मीद करता हु आपको search engine optimization समझ आया होगा।

Leave a Reply